Home » Archives for August 2015

Month: August 2015

Neend Jab Bhi Mujhe Aagosh Mein Leti Hai – Good Night Shayri

नींद जब भी मुझे अपनी बाँहो में लेती है,
तुम्हारा चेहरा इन निगाहों में बस जाता है,
एक दम से मेरी आँख खुल जाती है,
दिल से गुड नाईट कहने की आवाज आती है !!

Neend jab bhi mujhe apni baanho mein leti hai,
Tumhara chehra in nigaahon mein bus jaata hai,
Ek dum se meri aankh khul jaati hai,
Dil se good night kehne ki awaaj aai hai !!

Dekhkar Meri Nabz Hanste Huye Bola Haqeem – Dosti Shayari

देखकर मेरी नब्ज़ हँसते हुए बोला हक़ीम,
जा जाकर जमाले अपने दोस्तों के साथ महफ़िल,
तेरे हर रोग की दवा ही वहीं है !!!

Dekhkar meri nabz hanste huye bola haqeem,
Jaa jaakar jamaale apne doston ke saath mehfil,
Tere har rog ki dawaa hi wahi hai !!!

Raat Hai Gumsoom Magar Chaand Khaamosh Nahi – Sharaabi Shayari

रात है गुमसुम मगर चाँद खामोश नहीं,
कैसे मैं कह दूँ कि आज फिर होश नहीं,
ऐसा डूबा हूँ तेरी आँखों की गहराई में,
हाथ में जाम है लेकिन पीने का होश नहीं …!!

Raat hai gumsoom magar chaand khaamosh nahi,
Kaise main keh doon ki aaj phir hosh nahi,
Aisa dooba hoon teri aankhon ki gehraai mein,
Haath mein jaam hai lekin peene ka hosh nahi…!!

Sehmi Si In Aankhon Mein Hum Sapne Jagaa Denge – Ishq Mohabbat Shayri

सहमी सी इन आँखों में हम सपने जगा देंगे,
सूनी सी इन राहों पर हम फूल खिला देंगे,
हमारे साथ मुस्कुरा कर तो देखो,
हम आपका हर दुःख भुलवा देंगे !!

Sehmi si in aankhon mein hum sapne jagaa denge,
Sooni si in raahon par hum phool khila denge,
Hamaare saath muskura kar to dekho,
Hum aapka har dukh bhulwaa denge !!

Vaada Kiya Hai To Usey Beshaq Nibhaayenge – Good Morning Shayari

वादा किया है तो उसे बेशक निभाएंगे,
सूरज की पहली किरण बनकर छत पर आएंगे,
हम है तो जुदाई का ग़म कैसा,
तेरी हर सुबह को फूलों सा महकायेंगे !!

Vaada kiya hai to usey beshaq nibhaayenge,
Suraj ki pehli kiran bankar chhat par aayenge
Hum hai to judaai ka gam kaisa,
Teri har subah ko phoolon sa mehkaayenge !!

Tumse milne ke baad tumhe khona nahi chaahta – Good Night Shayari

तुमसे मिलने के बाद तुम्हे खोना नहीं चाहता,
एक प्यारी सी ख़ुशी मिलने के बाद रोना नहीं चाहता,
नींद तो बहुत है मेरी इन आँखों में,
लेकिन तुमसे बात किये बिना सोना नहीं चाहता !!

Tumse milne ke baad tumhe khona nahi chaahta,
Ek pyaari si khushi milne ke baad rona nahi chaahta,
Neend to bahoot hai meri in ankhon mein,
Lekin tumse baat kiye bina sona nahi chaahta !!

Door Hoon Tumse Lekin Koi Gam Nahi – Yaad Shayari

दूर हूँ तुमसे लेकिन कोई ग़म नहीं,
दूर रहकर भूलने वालों में हम नहीं,
रोज मुलाकात ना हो पाये तो क्या हुआ,
तुम्हारी याद तुम्हारी मुलाक़ात से कम नहीं !!

Door hoon tumse lekin koi gum nahi,
Door rehkar bhoolne walon mein hum nahi,
Roj mulakaat naa ho paaye to kya huya,
Tumhaari yaad tumhaari mulaaqat se kam nahi !!

Yaaron Ki Kami Ko Pehchaanta Hoon Main – Friendship Shayari

यारों की कमी को पहचानता हूँ मैं,
इस जहां के दुःखों को जानता हूँ मैं,
तुम जैसे यारों के ही तो सहारे,
आज भी हँसकर जीना जानता हूँ मैं !!!

Yaaron ki kami ko pehchaante hoon main,
Is jahaan ke dukhon ko jaanta hoon main,
Tum jaise yaaron ke hi to sahaare,
Aaj bhi hanskar jeena jaanta hoon main !!!

Baarish Ki Boondon Mein – Hindi Love Shayari

बारिश की बूंदों में दिखती है उसकी तस्वीर,
आज फिर भीग बैठी उसे देखने की चाहत में !!

Baarish ki boondon mein dikhti hai uski tasveer,
Aaj fir bheeg baithi usey dekhne ki chaahat mein !!

Galti Karke Bhi Galti Ka Naam Puchhte Hain – Romantic Shayari

गलती करके भी गलती का नाम पूछते हैं वो ,
खुद दर्द मुझको देकर दवा का नाम पूछते हैं वो,
मर गया हूँ उसकी इस अदा पर,
होकर मेरी जान मुझसे मेरी जान का नाम पूछते हैं वो !!

Galti karke bhi galti ka naam puchhte hain wo,
Khud dard mujhko dekar dawa ka naam puchhte hain wo,
Mar gaya hoon uski is adaa par,
Hokar meri jaan mujhse meri jaan ka naam puchhte hain wo !!