Home
kiya nahi jaata ishq shayari

Kiya nahi jaata ishq kisi mukhde se

किया नहीं जाता इश्क़ किसी के मुखड़े से,

कि मोहब्बत तो सीरत से होती है,

चेहरा उसका अपने आप हसीं हो जाता है,

जिसकी कदर दिल में होती है

Kiya nahi jaata ishq kisi ke mukhde se,

Ki mohabbat to seerat se hoti hai…

Chehra uska apne aap haseen ho jaata hai,

Jinki kadar is dil mein hoti hai…

tumne abhi wo waqt shayari

Tumne abhi wo waqt hi kahan dekha

तुमने अभी वो वक़्त ही कहाँ देखा,

जो कटता ही नहीं,

तनहा भरी रात किसे कहते हैं,

ये तुम नहीं समझोगे

Tumne abhi wo waqt hi kahan dekha,

Jo katata hi nahi,

Tanhaa bhari raat kise kehte hain

Ye tum nahi samjhoge

yaad aate hain wo pal shayari

Yaad aate wo pal shayari

याद आते वो पल,

बताओ कैसे मैं मिटा दूँ,

जिन पलों में तुम कहती थी,

कि अपनी जां लूटा दूँ,

अपनी शायरी में उतारे हैं,

ये कुछ अल्फ़ाज़ ही नहीं,

इस ज़िन्दगी की सच्चाई को,

मैं कैसे मिटा दूँ

Yaad aate wo pal,

Batao kaise main mitaa doon…

Jin palo mein tum kehti thi,

Ki apni jaan loota doon…

Apni shayari mein utaare hain,

Ye kuchh alfaaz hi nahi,

Is zindagi ki sachchayi ko,

Main kaise mitaa doon….

phoolon ne sapno ki shayari

Phoolon ne sapno ki shayari

फूलों ने सपनो की,

सच्चाई दिखाई है,

वफ़ा बेशक न मिली हो मुझे,

पर मोहब्बत मैंने दिल से निभायी है …

Phoolon ne sapno ki,

Sachchayi dikhayi hai,

Wafa beshq na mili ho mujhe,

Par mohabbat maine dil se nibhayi hai…

dosti ki dor shayari

Dosti ki dor shayari

दोस्ती की डोर दो अजनबियों को जोड़ देती है,

हर पग पर ज़िन्दगी को एक नया मोड़ देती है,

सच्चा यार हमेशा तभी साथ देता है,

जब दुनिया सारी साथ छोड़ देती है !!!!

Dosti ki dor do ajnabiyon ko jod deti hai,

Har pag par zindagi ko ek nayaa mod deti hai,

Sachha yaar tabhi saath deta hai,

Jab duniya saari saath chhod deti hai !!!

raat ke sannate mein intezaar shayari

Raat ke sannaate mein intezaar shayari

रात के सन्नाटे में उसको आवाज़ देती हूँ,

रात तारों से उसकी ही बात करती हूँ,

वो आये या ना आये मेरे सपनों में,

मैं तो बस उसी का इंतज़ार करती हूँ !!

Raat ke sannate mein usko awaaj deti hoon,

Raat ko taaron se uski hi baat karti hoon,

Wo aaye ya naa aaye mere sapno mein,

Main to bus usi ka intezaar karti hoon

kitne wakif the sad shayari

Kitne wakif the dard shayari

कितने वाकिफ़ थे वो मेरी कमजोरियों से,

वो रो देते थे और मैं हार जाता था ….

Kitne waakif the wo meri kamjoriyon se,

Wo ro dete the aur main haar jaata tha ….

ye umr zindagi life shayari

Ye umr aur zindagi shayari

ये उम्र और ज़िन्दगी बिना रुके बढ़ते ही जा रहे हैं,

और हम आज भी अपनी ख्वाहिशें लेकर वहीं खड़े हैं !!

Ye umr aur zindagi bina ruke badhte hi jaa rahe hain,
.
.
.
Aur hum aaj bhi apni khwahishe lekar wahi khade hain !!