pyari dosti ke liye shayari

3 pyaari dosti ke liye shayari

आज ख़ुदा से एक छोटी सी मुलाक़ात हुई है, सिर्फ आपके बारे में ही बात हुई है,
कहा हमने कि आपके जैसे दोस्त के लिए क्या किस्मत हमनें पाई है,
ख़ुदा ने कहा कि संभाल कर रखना क्योंकि वो मेरी परछाई है…

Aaj khuda se ek chhoti si mulaqaat huyi hai, sirf aapke hi baare mein baat huyi hai,
Kaha humne ki aapke jaisa dost ke liye kya kismat humne paayi hai,
Khuda ne kaha aapke ki sambhaal kar rakhna kyonki wo meri parchhayi hai…

एक ख़्वाहिश होती है अपने दोस्तों के साथ जीने की इस दुनियाँ में,
वर्ना इतना तो हम भी जानते हैं कि मरना अकेले ही होता है।

Ek khwaahish hoti hai apne dosto ke saath jeene ki is duniya mein,
Varna itna to hum bhi jaante hain ki marna akele hi hota hai…

For more shayari, please check out dosti shayari section.

मांगी थी एक मन्नत हमनें उस रब्ब से,
कि देना हमें एक ऐसा दोस्त जो प्यारा हो सबसे,
तब मिलाकर तुमसे रब्ब ने हमें कहा,
आज से है ये दोस्त तुम्हारा ख़ास सबसे

Maangi thi ek mannat humne us rabb se,
Ki dena humein ek aisa dost jo pyara ho sabse,
Tab milaakar tumse rabb ne humein kaha,
Aaj se hai ye dost tumhaara khaas sabse..

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *