Category: Sharabi Shayari

Sharabi Shayari, Latest Sharabi SMS, Best Sharabi Shayri in Hindi, Hindi Sharabi Shayari SMS

sharabi shayari 0

Dukh Is Tarah Mila Ki Ghabraakar Pi Gaye Hum

दुःख इस तरह मिला कि घबराकर पी गए हम, ख़ुशी अगर थोड़ी मिली तो उसे भी मिलाकर पी गए हम, यूं तो ना थी जनम से पीने की आदत हमें, देखा जब शराब तो अकेला तो तरस खाकर पी गए हम …!!! Dukh is tarah mila ki ghabraa kar pee gaye hum, Khushi agar thodi mili to usey bhi milaakar pee gaye hum, Yoon to naa thi janam se peene ki aadat humein, Dekha jab sharaab to akela to taras khaakar pee gaye hum…!!!

0

Dard Ki is Mehfil Mein – Sharabi Shayari

दर्द की इस महफ़िल में एक शेर मैं भी अर्ज़ करता हूँ, ना किसीसे दवा और ना दुआओं की उम्मीद करता हूँ, कई चेहरें लेकर जीते हैं लोग यहाँ इस दुनिया में, मैं तो इन आंसुओं को एक चेहरें के लिए पीया करता हूँ !! Dard ki is mehfil mein Ek sher main bhi arz karta hoon, Naa kisise dawa aur naa duaaon ki umeed karta hoon, Kai chehre lekar jeete hain log yahan is duniya mein, Main to in aansuon ko ek chehre ke liye piya karta hoon!!

0

Tumhaare naino ke ye jo pyaale hain – Hindi Sharabi Shayri SMS

तुम्हारे नैनो के ये जो प्याले हैं, मेरे लिए अँधेरी रातों में उजाले हैं, पीता हूँ शराब के जाम तुम्हारे नाम के, हम तो शराबी बे-शराब वाले हैं !! Tumhaare naino ke ye jo pyaale hain, Mere liye andheri raaton mein ujaale hain, Peeta hoon sharaab ke jaam tumhaare naam ke, Hum to sharaabi be-sharaab wale hain !!

0

Dukh Itna Milaa – Hindi Sharabi Shayari

दुःख इतना मिला कि हम घबरा कर पी गए, ख़ुशी अगर थोड़ी सी भी मिली तो उसे मिलाकर पी गए, यूं तो ना थी हमें शराब पीने कि आदत, पर शराब को तनहा देखा तो तरस खाकर पी गए !! Dukh itna milaa ki hum ghabraa kar pee gaye, Khushi agar thodi si bhi mili to usey milaakar pee gaye, Yoon to naa thi humein sharab peene ki aadat, Par sharab ko tanhaa dekha to taras khaakar pee gaye !!

0

Peeta Tha Sharaab Main – Hindi Sharabi Shayari

पीता था शराब मैं, उसने दी छुड़ा अपनी कसम देकर, जब गया महफ़िल में मैं, तो दोस्तों ने पीला दी उसी की कसम देकर !!! Peeta tha sharaab main, Usne di chhuda apni kasam dekar, Jab gaya mehfil mein main, To doston ne peela di usi ki kasam dekar !!!

0

Pee Chuke Hain Sharaab Hum – Sharabi Shayari SMS in Hindi

पी चुके हैं शराब हम हर गली हर दूकान से, एक रिश्ता सा बन गया है शराब के ज़ाम से, पाये हैं ज़ख्म हमने इश्क़ में ऐसे, कि नफ़रत सी हो गयी है हमें इश्क़ के नाम से !! Pee chuke hain sharaab hum har gali har dukaan se, Ek rishta sa ban gaya hai sharaab ke jaam se, Paaye hain zakhm humne ishq mein aise, Ki nafrat si ho gayi hai humein ishq ke naam se !!

0

Kuchh Bhi Bacha Nahi Kehne Ko Ab – Sharaabi Shayari

कुछ भी बचा नहीं कहने को अब, सारी बात हो गयी, आओ कहीं बैठकर शराब पीयें क्योंकि अब रात हो गयी !!! Kuchh bhi bacha nahi kehne ko ab, saari baat ho gayi, Aao kahin baithkar sharaab peeyein kyonki ab raat ho gayi !!!

0

Peete Hain Log Sharaab Mehkhaane Mein Jaakar – Sharaab Shayari

पीते हैं लोग शराब महखाने में जाकर, जो दो ही पलों में उत्तर जायेगी, लेकिन मैंने तो पी है अपने सनम की आँखों से, ये उम्र भर ना उतर पाएगी !! Peete hain log sharaab mehkhaane mein jaakar, Jo do hi palon mein utar jaayegi, Lekin maine to pee hai apne sanam ki aankhon se, Ye umar bhar naa utar paayegi !!

0

Teri Bewafaai Ne Daal Di Hai Ye Aadat Buri – Sad Sharaabi Shayari

तेरी बेवफाई ने डाल दी है ये आदत बुरी, हम भी कभी शरीफ हुआ करते थे इस ज़माने में, पहले दिन शुरू करते थे अपना मंदिर में पूजा से, अब गुज़रती है शाम शराब के साथ महखाने में … !! Teri bewafaai ne daal di hai ye aadat buri, Hum bhi kabhi shareef hua karte the is zamaane mein, Pehle din shuru karte the apna mandir mein pooja se, Ab guzarati hai shaam sharaab ke saath mehkhaane mein… !!

0

Raat Hai Gumsoom Magar Chaand Khaamosh Nahi – Sharaabi Shayari

रात है गुमसुम मगर चाँद खामोश नहीं, कैसे मैं कह दूँ कि आज फिर होश नहीं, ऐसा डूबा हूँ तेरी आँखों की गहराई में, हाथ में जाम है लेकिन पीने का होश नहीं …!! Raat hai gumsoom magar chaand khaamosh nahi, Kaise main keh doon ki aaj phir hosh nahi, Aisa dooba hoon teri aankhon ki gehraai mein, Haath mein jaam hai lekin peene ka hosh nahi…!!