Yaadon Mein Meri Kabhi Tum Bhi Khoye Hoge – Yaad Shayri

यादों में मेरी कभी तुम भी खोये होगे,
खुली आँखों से कभी तुम भी तो सोये होगे,
माना की हँसना अदा है ग़म छिपाने की,
पर हस्ते-हस्ते कभी तुम भी तो रोये होगे … !!

Yaadon mein meri kabhi tum bhi khoye hoge,
Khuli ankhon se kabhi tum bhi to soye hoge,
Maana ki hasnaa adaa hai gum chhipaane ki,
Par haste-haste kabhi tum bhi to roye hoge… !!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *