Category: Dosti Friendship Shayari

0

Teri Hasi Hi Meri Pehchaan Hai – Dosti Shayari

तुम्हारी हर हँसी से ही मेरी पहचान है, तुम्हारी हर ख़ुशी में ही मेरी जान है, कुछ भी नहीं तुम्हारे बिना ये मेरी ज़िन्दगी बस इतना समझ लो, तुम्हारे जैसा दोस्त होना ही मेरी शान है !! Tumhari har hasi se hi meri pehchaan hai, Tumhari har khushi mein hi meri jaan hai, Kuchh bhi nahi tumhaare bina ye meri zindagi bus itna samajh lo, Tumhaare jaisa dost hona hi meri shaan hai !!

0

Manjilon Se Apni Darr Naa Jaana – Friendship Shayari

मंजिलों से अपनी तुम डर ना जाना, रास्ते की परेशानियों से तुम टूट ना जाना ! जब भी जरूरत हो ज़िन्दगी में किसी अपने की तुम्हे, यहाँ कोई तुम्हारा अपना हैं ये भूल ना जाना !! Manjilon se apni tum darr naa jaana, Raaste ki pareshaniyon se tum toot naa jaana ! Jab bhi jaroorat ho zindagi mein kisi apne ki tumhe, Yahan koi tumhaara apna hain ye bhool naa jaana !!

0

Dost Ki Yaad Se Badi Koi Daulat Nahi Hoti – Hindi Dosti Shayari

दोस्त की याद से बड़ी कोई दौलत नहीं होती, साथ रहना ही दोस्त की जरूरत नहीं होती. दूरियां कर देती हैं यादों को ज़िंदा, वर्ना यादों की कोई कीमत नहीं होती !! Dost ki yaad se badi koi daulat nahi hoti, Saath rehna hi dost ki jaroorat nahi hoti. Dooriyaan kar deti hain yaadon ko jindaa, Varna yaadon ki koi keemat nahi hoti..!!