Category: Friendship (Dosti) Shayari

0

Ek Gunaah Hua Hai Mujhse – Hindi Dosti Shayari

एक गुनाह हुआ है मुझसे, एक दोस्त बना बैठा हूँ, कुछ अपना उसको समझ कर अपने सारे राज़ बता बैठा हूँ, फिर उसकी यादों में, दिलों जान गवां बैठा हूँ !! Ek gunaah hua hai mujhse, Ek dost bana baitha hoon, Kuchh apna usko samajh kar apne saare raaz bata baitha hoon, Fir uski yaadon mein, dilon jaan gawaan baitha hoon !!

0

Kucch Haseen Pal Yaad Aate Hain – Dosti Shayari

कुछ हसीं लम्हें याद आते हैं, आँखों में आँसू छोड़ जाते हैं, कल अगर कोई और मिल जाए तुम्हे तो हमें ना भूल जाना, क्योंकि दोस्ती के ये रिश्ते ज़िन्दगी भर काम आते हैं !! Kucchh haseen lamhein yaad aate hain, Aankhon mein aasnoo chhod jaate hain, Kal agar koi aur mil jaaye tumhe to humein naa bhool jaana, Kyonki dosti ke ye rishtey zindagi bhar kaam aate hain !!

0

Kehte Hain Ki Dost Banaana Hi Zindagi Hai – Yaari Shayari

कहते हैं कि दोस्त बनाना ही ज़िन्दगी है, दोस्ती को दिल से निभाना ही ज़िन्दगी है, कितने भी व्यस्त क्यों ना रहे हम दिनभर, लेकिन एक पल के लिए ही सही, दोस्तों की याद आना ही तो ज़िन्दगी है …!! Kehte hain ki dost banaana hi zindagi hai, Dosti ko dil se nibhaana hi zindagi hai, Kitne bhi vyast kyon naa rahein hum dinbhar, Lekin ek pal ke liye hi sahi, doston ki yaad aana hi to zindagi hai…!!

0

Dekhkar Meri Nabz Hanste Huye Bola Haqeem – Dosti Shayari

देखकर मेरी नब्ज़ हँसते हुए बोला हक़ीम, जा जाकर जमाले अपने दोस्तों के साथ महफ़िल, तेरे हर रोग की दवा ही वहीं है !!! Dekhkar meri nabz hanste huye bola haqeem, Jaa jaakar jamaale apne doston ke saath mehfil, Tere har rog ki dawaa hi wahi hai !!!

0

Yaaron Ki Kami Ko Pehchaanta Hoon Main – Friendship Shayari

यारों की कमी को पहचानता हूँ मैं, इस जहां के दुःखों को जानता हूँ मैं, तुम जैसे यारों के ही तो सहारे, आज भी हँसकर जीना जानता हूँ मैं !!! Yaaron ki kami ko pehchaante hoon main, Is jahaan ke dukhon ko jaanta hoon main, Tum jaise yaaron ke hi to sahaare, Aaj bhi hanskar jeena jaanta hoon main !!!

0

Suna Hai Uparwale Ke Darbaar Se – Dosti Shayari

सुना है उपरवाले के दरबार से, कुछ फ़रिश्ते हैं फरार हो गए, कुछ तो वापिस चले गए, कुछ मेरे यार हो गए !! Suna hai uparwale ke darbaar se, Kuchh farishtay hain faraar ho gaye, Kuchh to waapis chale gaye, Kuchh mere yaar ho gaye !!

0

Waqt Noor Ko Bahnoor Kar Deta Hai – Dosti Shayari

वक़्त नूर को बहनूर कर देता है, छोटे से ज़ख़्म को भी नासूर कर देता है, कौन कमबख्त चाहता है तुम जैसे दोस्तों से दूर रहना, ये वक़्त ही है जो इंसान को मजबूर कर देता है !! Waqt noor ko bahnoor kar deta hai, Thode se zakham ko bhi naasoor kar deta hai, Kaun kambakht chaahta hai tum jaise doston se door rehna, Ye waqt hi hai jo insaan ko majboor kar deta hai !!

0

Jinhe Chaaho Dil Se – Dosti Shayari

जिन्हे चाहो दिल से उन्हें अपने दिल के पास रखना, हर पल हर मोड़ पर इन्हे ख़ास रखना, बड़े ही नाज़ुक होते हैं ये दोस्ती के रिश्ते, कभी टूट ना जाए इसलिए इन पर विश्वास रखना !! Jinhe chaaho dil se unhe apne dil ke paas rakhnaa, Har pal har mod par inhe khaas rakhnaa, Bade hi naajuk hote hain ye dosti ke rishtey, Kabhi toot naa jaaye isliye in par vishwaas rakhnaa !!

0

Mere Dost Ki Zindagi Mein Koi Bhi Gum Na Ho – Friendship Shayari

सबको दुनियाँ में खुशियां बांटने वाले, मेरे दोस्त की ज़िन्दगी में कोई भी ग़म ना हों, मिले उसको मुझसे भी अच्छा दोस्त , लेकिन मिले तब जब इस दुनिया में हम ना हों !! Sabko duniya mein khushiyan baantne wale, Mere dost ki zindagi mein koi bhi gum na ho, Mile usko mujhse bhi achcha dost, Lekin mile tab jab is duniya mein hum na ho !!

0

Teri Hasi Hi Meri Pehchaan Hai – Dosti Shayari

तुम्हारी हर हँसी से ही मेरी पहचान है, तुम्हारी हर ख़ुशी में ही मेरी जान है, कुछ भी नहीं तुम्हारे बिना ये मेरी ज़िन्दगी बस इतना समझ लो, तुम्हारे जैसा दोस्त होना ही मेरी शान है !! Tumhari har hasi se hi meri pehchaan hai, Tumhari har khushi mein hi meri jaan hai, Kuchh bhi nahi tumhaare bina ye meri zindagi bus itna samajh lo, Tumhaare jaisa dost hona hi meri shaan hai !!